सरकारी विभागों में इलेक्ट्रिक कार के उपयोग को बढ़ावा दें- रघुवर दास

 

माननीय मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने बुधवार को कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों के उपयोग से न केवल पर्यावरण की सुरक्षा होगी, बल्कि मुद्रा की भी बचत होगी। पेट्रोलियम पदार्थों पर निर्भरता कम होने से सभी को लाभ होगा। झारखण्ड देश में पांचवां राज्य बन गया, जहां सरकारी वाहन के रूप में इलेक्ट्रिक कारों को शामिल किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने ये बातें झारखण्ड मंत्रालय में ऊर्जा विभाग द्वारा इलेक्ट्रिक कारों के उपयोग के शुभारंभ कार्यक्रम में कही। पहले चरण में ऊर्जा विभाग को ईईएसएल से 20 कारें मिली है। अगले दो सप्ताह में 30 कारें और मिलेंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के अन्य सरकारी विभाग भी इस मॉडल को अपनायें। आम लोग भी इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग करें। इससे हमारा झारखण्ड स्वच्छ और हरित प्रदेश बना रहेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने नीति आयोग से इस संबंध में पॉलिसी बनाने का निर्देश दिया है। इससे ई-मोबिलिटी को बढ़ावा मिलेगा।

कार्यक्रम में ऊर्जा विभाग के सचिव श्री नितिन मदन कुलकर्णी ने कहा कि रांची में अब तक 12 चार्जिंग स्टेशन बनाये जा चुके हैं। आने वाले समय में और चार्जिंग स्टेशन बनाएं जाएंगे। इस दौरान जेबीवीएनएल के प्रबंध निदेशक श्री राहुल पुरवार, जेयूयूएनएल के प्रबंध निदेशक श्री कुलदीप चौधरी, ईईएसएल की निदेशक वित्त श्रीमती रेणू नारंग समेत अन्य लोग उपस्थित थे।