कैबिनेट की बैठक में लिए गए अहम फैसले

 

टाटा मोटर्स लि. जमशेदपुर प्लान्ट में किए गए विस्तार/आधुनिकीकरण के उपरान्त झारखण्ड औद्योगिक नीति-2012 के आलोक में वित्तीय प्रोत्साहन दिए जाने हेतु संशोधन की स्वीकृति । इस संशोधन के उपरांत स्थानीय खरीद तथा एंसिलरी यूनिट को बढ़ावा मिलेगा। एंसिलरी यूनिट स्थापित होने के बाद एक स्थानीय बाजार उपलब्ध होगा जिससे स्थानीय युवकों को प्रत्यक्ष एवं परोक्ष रूप में रोजगार उपलब्ध होगा।

वित्तीय वर्ष 2018-19 तथा 2019-20 में सुयोग्य परिवारों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत घरेलू गैस LPG उपलब्ध कराने के उपरांत प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अंतर्गत आच्छादित होने वाले परिवारों की संख्या में वृद्धि एवं राज्य सरकार द्वारा गैस स्टोव एवं प्रथम रिफिल का मूल्य वहन करने की स्वीकृति मंत्रिमंडल ने प्रदान की। वित्तीय वर्ष 2018-19 में लगभग 13.50 लाख सुयोग्य परिवारों को घरेलू गैस सहयोग उपलब्ध कराए जाने पर 224 करोड़ रुपये का व्यय अनुमानित है तथा वित्तीय वर्ष 2019-20 में लगभग 12 लाख सुयोग्य परिवारों को राज्य में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत घरेलू गैस सहयोग उपलब्ध कराए जाने पर कुल 198 करोड़ रुपये मात्र व्यय अनुमानित है ।

झारखण्ड नगरपालिका अधिनियम, 2011 के आलोक में गिरिडीह जिलान्तर्गत सरिया अंचल के एक राजस्व ग्राम बड़की सरैया को बड़की सरैया नगर पंचायत के रूप में घोषित करने की स्वीकृति ।

7वें वेतन पुनरीक्षण के आलोक में माननीय मुख्यमंत्री/पूर्व मुख्यमंत्री/मंत्री की निजी स्थापना में पदस्थापित वाह्य कोटि (को-टर्मिनस) के पदाधिकारियों तथा कर्मियों के वेतन, भत्ता एवं अन्य सुविधाओं में दिनांक 01.01.2016 के प्रभाव से संशोधन करने की स्वीकृति ।