गरीबों और किसानों को आगे बढ़कर ऋण दें- रघुवर दास

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने दुमका में गुरुवार को मेगा ऋण शिविर का शुभारंभ किया । मुख्यमंत्री ने कहा कि इसी संताल परगना की धरती से आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने मुद्रा योजना की शुरुआत की थी और इसी योजना से देश के लाखों लोगों को महाजनी प्रथा से मुक्ति मिली और वो स्वरोजगार के माध्यम से आत्मनिर्भर बने । मुख्यमंत्री ने कहा कि मुद्रा योजना के माध्यम से आज 10,145 लाभुकों के बीच 114 करोड़ 38 लाख रुपये का वितरण किया जा रहा है ।
“ये प्रयास राज्य की जनता के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए है । वो अपने पैर पर खड़े होंगे, तभी राज्य विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि बदलते जमाने में शिक्षा के साथ हुनर की भी जरुरत है । राज्य के युवाओं की हुनर क्षमता बढ़ाने के लिए सरकार सात सौ करोड़ रुपये खर्च कर रही है । इस मौके पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बैंक अधिकारियों से अनुरोध किया कि वो गरीबों को आगे बढ़कर लोन दें । साथ ही राज्य के लगभग 39 लाख किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ दें और न्यू झारखण्ड के निर्माण में अपना योगदान दें।

“हमारे गरीब भाई-बहन ईमानदार हैं, मेहनत करते हैं। झारखण्ड प्रकृति के गोद में बसा हुआ राज्य है, अगर ठीक से यहां की उपज की पैकेजिंग और मार्केटिंग करें तो यहां से बेरोजगारी और गरीबी का नामो निशान मिट जाएगा।”
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि हमारी बहनें सखी मंडलों के माध्यम से बहुत अच्छा काम कर रही हैं। स्वरोजगार के लिए ये एक अत्यंत कारगार व्यवस्था है।