मुख्यमंत्री ने दी नववर्ष की बधाई, जनता से की ‘न्यू झारखण्ड’ निर्माण में योगदान देने की अपील

“साल 2018 में राज्य के गरीब, वंचित लोगों के चेहरों पर मुस्कान हो और झारखंड से गरीबी, अशिक्षा, कुपोषण, बेरोजगारी दूर हो और हम सब मिलकर एक नए झारखंड का निर्माण करें, जिससे झारखंड एक समृद्धशाली राज्य के रूप में देश का अग्रणी राज्य बने सके।” – रघुवर दास, मुख्यमंत्री

 

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने सोमवार को जमशेदपुर के भालूबासा स्थित शीतला मंदिर एवं सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर में पूजा-अर्चना कर राज्य के सर्वांगीण विकास की कामना की। इस अवसर पर उन्होंने समस्त झारखंड वासियों को नव वर्ष की मंगलकामनाएं दीं। 

 

जमशेदपुर प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री आज बागुनहातू सिदगोड़ा में कल्पतरु महोत्सव में शामिल हुए। इस अवसर पर उन्होंने उपस्थित लोगों को नव वर्ष की शुभकामनाएं दीं। 

उन्होंने लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि इस नूतन वर्ष में अपने राष्ट्र एवं राज्य को समृद्धशाली, प्रगतिशील और साफ-सुथरा बनाने में हम सभी अपना योगदान दें। 

उन्होंने कहा कि प्राचीन समय से ही भारत ऋषि-मुनियों और महापुरुषों का देश रहा है। स्वामी विवेकानंद भारत को विश्व गुरु के रुप में देखना चाहते थे। उन्होंने कहा कि आज माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश जगतगुरु की भूमिका निभाने की दिशा में आगे बढ़ रहा है।

 

इस अवसर मुख्यमंत्री ने रामकृष्ण मिशन के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि संस्थान द्वारा 600 व्यक्तियों को मधुमक्खी पालन हेतु प्रशिक्षित किया जा रहा है, उनके द्वारा जो मधु उत्पादित होगा, उसे झारमधु के नाम से बाजार में उपलब्ध कराया जाएगा।

 

इस अवसर पर रामकृष्ण मिशन के सदस्यगण एवं आम लोग उपस्थित रहे।