भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थली उलिहातू के पवित्र मिट्टी लेकर भाजपा अनुसूचित जननजाति मोर्चा

भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थली उलिहातू के पवित्र मिट्टी लेकर भाजपा अनुसूचित जननजाति मोर्चा का दल 14 नवम्बर को 1 बजे उलीहातू गाँव से विशाल पदयात्रा प्रारम्भ किया ।
केन्द्रीय मंत्री जुएल ओराम जी ने हरी झंडी दिखा कर अनुसूचित जनजाति मोर्चा के दल को राँची के लिए रवाना किया । केन्द्रीय मंत्री के साथ प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ जी,सुदर्शन भगत जी,अर्जुन मुंडा जी,लुइस मरांडी जी,नीलकंठ सिंह मुंडा जी और विधायकगण भी उपस्थित थे । 
रात्रि विश्राम हेतु यह दल कालामाटी में रुकी।पुनः प्रातः 6 बजे यह पदयात्रा राँची के लिए प्रस्थान किये।इस क्रम में सभी नाचते झूमते,मांदर ढोल,सांस्कृतिक वेष-भूषा के साथ पदयात्रा कर रहे थे।यह पदयात्रा लगभग 65 किलोमीटर की दुरी तय करने के बाद राँची के बिरसा चौक पहुचीं।बिरसा चौक में माननीय मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा जी,अध्यक्ष रामकुमार पाहन जी,उपाध्यक्ष समीर उराँव जी,उपाध्यक्ष अशोक बड़ाईक जी,विधायक गंगोत्री कुजूर जी,विधायक शिवशंकर उराँव जी,विधायक हरेकृष्ण सिंह जी ने सामूहिक रूप से कलशा(पवित्र मिट्टी) को महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोबिंद को सौंप दिया ।
इस दल का नेतृत्व मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रामकुमार पाहन ने किया तथा सभी जनजाति भाई बहन को लम्बी दुरी तय करने के लिए नीलकंठ सिंह मुंडा जी ने अपना साथ दिया । जगह जगह खुद गीत गा कर सभी का उत्साह बढाया और सभी का ख़याल रखा ।
इस पदयात्रा में आरती कुजूर,एडवर्ड सोरेन,बिंदेश्वर उराँव जी,कमलेश उराँव,आशेष बारला जी,अनु लकड़ा,नूतन पाहन,सुमन कच्छप,लष्मी बारला,अनिता उराँव, मंजू सिंह,रश्मि रेखा नाग,प्रेम बड़ाईक,सोनी हेम्ब्रम सहित कई शामिल थे।