”हम चले गांव की ओर” अभियान 16 नवंबर से 14 दिसम्बर तक

भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा की बैठक प्रदेश अध्यक्ष रामकुमार पाहन की अध्यक्षता में प्रदेश कार्यालय में सम्पन्न हुई।बैठक में मुख्य रूप से महामंत्री दीपक प्रकाश जी उपस्थित हुए।उन्होंने जनजाति मोर्चा की तारीफ करते हुए कहा कि जनजाति मोर्चा ने कम समय मे अपने कार्यक्रम एवं संगठन निर्माण कार्य कर एक नया आयाम प्रस्तुत किया है इससे दूसरे मोर्चा को भी सीखने की आवश्यकता है।श्री रामकुमार पाहन ने “हम चले गांव की ओर” कार्यक्रम पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 14 नवंबर को हज़ारो भाजपा जनजाति मोर्चा के कार्यकर्ता खुंटी के उलिहातू गांव जायेंगे।वहाँ केंद्रीय जनजाति मामलों के मंत्री जुएल उराँव जी एवम झारखण्ड सरकार के मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा जी मुख्य रूप से उपस्थित रहेंगे।वहां से हज़ारो कार्यक्रता पारम्परिक भेष-भूषा ,वाद्य यंत्रों के साथ पद यात्रा करते हुए जाऐंगे, उस पद यात्रा को जुएल उराँव जी एवं नीलकंठ सिंह मुंडा जी हरी झंडी दिखाकर विदा करेंगे।15 नवंबर को हज़ारो कार्यकर्ता पद यात्रा करते हुए राँची के बिरसा चौक पहुँचेगे, वहाँ माननीय मुख्यमंत्री रघुवर दास जी एवं प्रदेश अध्यक्ष माननीय लक्षमन गिलुआ जी सभी का स्वागत करेंगे।”हम चले गांव की ओर” अभियान 16 नवंबर से 14 दिसम्बर तक प्रत्येक जिला में 5-5 दिन तक चलाया जाएगा।एवं अभियान का भव्य समापन दुमका जिला में होगा।
इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्रमण्डल प्रभारी एवम जिला प्रभारी बनाया गया है।

दक्षिण छोटानागपुर प्रमंडल-अशोक बड़ाईक,उतरी छोटानागपुर प्रमण्डल-बिंदेश्वर उराँव,संथाल प्रमण्डल-बिशु टुडू,पलामू प्रमंडल-अवधेश सिंह चेरो,कोल्हान प्रमण्डल-आशेष बारला।
जिला प्रभारियो के नाम इस प्रकार है

राँची ग्रामीण-सुनील फकीरा कच्छप, सुषमा मुंडा,राँची महानगर-सुमन कच्छप,बिरसा पाहन,खुंटी रीता मुंडा,नीलू पाहन,सिमडेगा-कमलेश उराँव,लक्ष्मण बड़ाईक,गुमला-आशेष बारला,रमेश उराँव,लोहरदगा-जग्गरनाथ भगत,,लातेहार-नूतन पाहन, अनु लकड़ा,पलामू-देव मोहन सिंह,मोहन सिंह चेरो,गढ़वा-मंजू सिंह,रघुपाल सिंह,चतरा-कुमैल उराँव,अर्जुन सिंह,रामगढ़-रामरतन मुंडा,रितवरण सोरेन,हजारीबाग-अनिल उराँव,शान्ति टोप्पो,धनबाद-जानकी कोड़ा,सिद्धाम सिंह मुंडा,बोकारो-दिलीप हेम्ब्रोम,नकुल तिर्की,गिरिडीह-सुरेश मुर्मू,रंजीत मरांडी,जामताड़ा-दानिएल किस्कु मनोज सोरेन,दुमका-लखी हेम्ब्रम,मनोज पहाड़िया,पाकुड़-साहेब हांसदा, दुर्गा मरांडी,देवघर-रमेश चन्द्र टुडू,साहेबगंज-दिनेश मुर्मू,सुलेमान मुर्मू,जमशेदपुर महानगर-शोभा सामंत,बारी मुर्मू,पूर्वी सिंहभूम-रामजीत मार्डी,खरसांवा-लखन मार्डी, बास्को बेसरा,पश्चिमी सिंहभूम-भोगेन सोरेन।